वृंदावन में राधे-राधे दुश्वार

वृन्दावन: राधे-राधे की मनमोहक धुन और सुर भले ही समूचे ब्रज क्षेत्र में धूम बचाएं लेकिन यहां की तंग गलियों इसे गुनगुनाना दुश्वार हो चला है। पानी गांव, जयपुर मंदिर, कालीदह व रुक्मिणी विहार में थीं पार्किग शासन ने वृंदावन में पार्किग पर करोड़ों रुपए खर्च किए। परंतु वे सुनसान पड़ी हैं और निजी पार्किग फलफूल रही हैं। श्रद्धालु अपनी गाड़ियों … [आगे पढ़ें...]