फुलैरा दौज पर राधाबल्लभ लाल ने बांधा फेंटा, खेली होली

- अन्य मंदिरों में से शुरू होगी रंगों की होली, ठा. बांकेबिहारी मंदिर में भी उमड़ी भक्तों की भीड़ वृन्दावन, 18 फरवरी 2018, (VT) फुलैरा दौज से ब्रज के अनेक मंदिरों में होली के रंग और परम्पराएं शुरू होने लग जाती है। नगर के राधाबल्लभ लाल के इस अवसर पर गुलाल की पोटली बांधकर फेंटा बांधा गया, इसका अर्थात् भगवान ने होली खेलने के लिए कमर कस ली है। … [आगे पढ़ें...]

जहां श्रीकृष्ण की वंशी पर सुध-बुध खो बैठे थे नटराजन, धारण किया गोपीरूप

- महाश्विरात्रि पर विशेष आलेख : डा. राजेश शर्मा, अध्येता - गोपी रूप धारण किया इसलिए प्रसिद्ध हुए गोपीश्वर महोदव     - नाम विदित गोपेश्वर जिनकौ,ते वृंदा कानन कुतवार.. डॉ.राजेश शर्मा, वृन्दावन - कोतवाल गोपेश्वर महादेव की हाजिरी के बिना नहीं मिलता ब्रजयात्रा का पुण्य वृन्दावन, 14 फरवरी 2018, (VT) वृन्दावन का वंशीवट परिक्षेत्र आज भी … [आगे पढ़ें...]

छठवें वार्षिकोत्सव पर आधुनिक रोशनियों से नहाया प्रेम मंदिर, भक्तों ने खेली फूलों की होली

- भगवान राधाकृष्ण और सीताराम के श्रीविग्रहों का किया गया दुग्धाभिषेक - कार्यक्रम डॉ. विशाखा त्रिपाठी, डॉ. श्यामा त्रिपाठी और डॉ. कृष्णा त्रिपाठी के सान्निध्य में हुआ वृन्दावन, 13 फरवरी 2018, (VT) प्रेम मंदिर के छठवें वार्षिकोत्सव पर रविवार को प्रेम मंदिर को दुल्हन की तरह आधुनिक लाइटों एवं विभिन्न प्रकार के फूलों से सजाया गया, मंदिर की … [आगे पढ़ें...]

एक माह तक चलने वाले फागोत्सव के उल्लास में डूबेगा ब्रज धाम

- फाग आमंत्रण 23 को, 24 को बरसाना तो 25 में होगी नंदगांव की होली - जन्मस्थान, द्वारिकाधीश एवं बांकेबिहारी में होली 26 को    - विश्वप्रसिद्ध दाऊजी का हुरंगा 3 मार्च को वृन्दावन, 06 फरवरी 2018, (VT) यू ंतो बसन्त पंचमी से ही ब्रज में होली का आगाज होने लगता हैं और यही से करीब एक महीने तक चलने वाले होली एवं हुरंगों के उल्लास में ब्रज … [आगे पढ़ें...]

भक्तों की रक्षा हेतु समय-समय पर अवतार लेते हैं भगवान- वेणुगोपाल गोस्वामी

- जगद्गुरु श्रीपुरुषोत्तम महाराज की प्रथम पुण्यतिथि पर जयसिंह घेरा में आयोजित श्रीमद्भागवत कथा का आयोजन   वृन्दावन, 03 फरवरी 2018, (VT) चैतन्यसम्प्रदायाचार्य जगद्गुरु श्रीपुरुषोत्तम महाराज की प्रथम पुण्यतिथि पर जयसिंह घेरा में श्रीमद्भागवत कथा का आयोजन बड़े ही उल्लास एवं आनंद के साथ चल रहा है। देश विदेश के श्रद्धालु आनंद की अनुभूति कर … [आगे पढ़ें...]

श्रीनिताई चांद की कृपा दृष्टि के बिना न तो श्रीधाम वृन्दावनवास और न ही श्रीराधाकृष्ण भक्ति

— श्रीनित्यानंद महाप्रभु के आर्विभाव महोत्सव पर विशेष  वृन्दावन, 29 जनवरी 2018, (VT) (Anjanna Agarwal) श्रीनित्यानंद प्रभु श्रीचैतन्य महाप्रभु के प्रथम प्रिय भक्त हैं, जिनकी जिह्वा पर सदा श्रीचैतन्य महाप्रभु के यशों का गुणगान स्फुरित होता रहता है। वे नित्य-निरंतर महाप्रभु जी की लीला कथाओं का वर्णन करते रहते हैं। ऐसे श्रीनित्यानंद प्रभु … [आगे पढ़ें...]

चंद्रग्रहण पर श्रीबांकेबिहारी जी तीन घंटे देंगें दर्शन

- ठा. बांकेबिहारी मंदिर के प्रबंधक मुनीश कुमार शर्मा ने बताया वृन्दावन, 28 जनवरी 2018. (VT) 31 जनवरी की शाम पड़ रहे चंद्रग्रहण के कारण वृंदावन में मंदिर भोरो में ही पूजा पाठ के बाद बंद कर दिए जाएंगे। इससे भक्तों को ठाकुर जी के दर्शन नहीं मिल सकेंगे। ठा. बांकेबिहारी मंदिर में भी सुबह 5 बजे ठाकुरजी के दर्शन खुलेंगे और सेवा के बाद सुबह 8 … [आगे पढ़ें...]

लोककला और संस्कृति के क्षेत्र में पद्मश्री से सम्मानित होंगे मोहनस्वरूप भाटिया

- मथुरा के मोहन को मिली पद्मश्री - महादेवी वर्मा के समय से लेखन कर रहे हैं भाटिया - 1800 पृष्ठ का वृहद अभिनंदन ग्रंथ वृन्दावन, 26 जनवरी 2018, (VT) साहित्यकार, पत्रकार और लोककला एवं ब्रज संस्कृति को दशकों से समर्पित मोहन स्वरूप भाटिया ने महादेवी वर्मा और अमृतलाल नागर के काल में लेखन कार्य किया। साहित्यकार भाटिया पिछले छह दशक से अधिक … [आगे पढ़ें...]

सभी सुविधायें सुसज्जित देश का पहला आश्रय सदन बनकर तैयार

- 100 कमरे हैं, 10 विधवाएं माताओं के लिए 1 कमरे में रहेंगे 10 बेड - भोजन, योगा, डिस्पेेंसरी, सुरक्षा आदि सभी सुविधाओं से सुसज्जित है यह आश्रय सदन वृन्दावन, 25 जनवरी 2018, AU (VT) मोक्ष की कामना लिए वृन्दावन वास को आने वाली विधवाओं के लिए देश का पहला और अत्याधुनिक महिला आश्रम सदन स्वधार गृह बनकर तैयार है। केंद्रीय महिला एवं बाल विकास … [आगे पढ़ें...]

बसंती कमरे की अद्भुत सजावट एवं झाड़ फनूस की विशेष कारीगरी के बीच विराजे ठा. राधारमण लाल

- बेजोड़, बेमिसाल, बेशकीमती झाड़-फनूस, विशाल गोलाकार दीवार और रोमन शैली को जीवंत करतीं सखियों    वृन्दावन, 23 जनवरी 2018, (VT) बेजोड़, बेमिसाल, बेशकीमती झाड़-फनूस, विशाल गोलाकार दीवार और रोमन शैली को जीवंत करतीं सखियों के बीच वसंती कमरे में स्वर्ण सिंहासन पर विराजमान ठा. राधारमणलालजू ने भक्तों को दर्शन दिए तो भक्त गद्गद हो गए। शाह जी मंदिर … [आगे पढ़ें...]