चिल्लर पार्टी देगी जल संचयन का संदेश

मथुरा, जागरण संवाददाता: देखत में छोटे लगे, घाव करें गंभीर। स्कूली बच्चे गैंग बनाकर इसी कहावत को चरितार्थ करने में जुट गए हैं। घर के बड़ों द्वारा पानी की बर्बादी करने से गुस्साए यह बच्चे नुक्कड़ नाटक कर उन्हें यह बताएंगे कि इसी तरह पानी बर्बाद करते रहे तो भविष्य में गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे। बच्चों ने इसके लिए कोवेलन्ट किड्स ग्रुप नाम … [आगे पढ़ें...]

वृंदावन-गोवर्धन क्षेत्र का होगा समेकित विकास

ताजमहल के निकट विकसित हो ताज नेचर पार्क : मुख्यमंत्री लखनऊ, जाब्यू : भगवान राम की नगरी अयोध्या-फैजाबाद ही नहीं बल्कि कृष्ण की नगरी मथुरा के वृंदावन-गोवर्धन क्षेत्र को भी सपा सरकार ने विकसित करने की ठानी है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने वृंदावन-गोवर्धन क्षेत्र के जल्द समेकित विकास के लिए मुख्य सचिव को एक माह में कार्ययोजना तैयार कर प्रस्तुत … [आगे पढ़ें...]

कालिंदी को जीवन देने के लिए शंखनाद

मथुरा, स्टाफ रिपोर्टर: जीवनदायिनी यमुना को जीवन मिलेगा। इसको लेकर एक बार फिर उम्मीदों के स्नोते फूटे हैं। यशस्वी ब्रव0161ार्षि कुमार स्वामी महाराज ने यमुना को प्रदूषण से मुक्ति दिलाने के लिए सोमवार को विश्रमघाट पर शंखनाद कर दिया। लोगों में विश्वास जागे यह कोशिश भी उन्होंने की। उन्होंने कहा कि यमुना मैली नहीं हो सकती, उसने यह तो रूप बदलकर … [आगे पढ़ें...]

पर्यटन के नाम पर छल

मथुरा: कृष्ण-बलराम की लीलाओं और शौर्य से ओतप्रोत ब्रज-भूमि अब तक पर्यटन के नाम पर सिर्फ छली जाती रही है। हर साल यहां आने वाले देशी-विदेशी करीब एक करोड़ तीर्थ-यात्रियों की कसौटी पर कान्हा की नगरी अभी तक खरी नहीं उतरी है। राधा-कृष्ण की प्रमुख लीलाओं से जुड़े क्षेत्र तक विकास के लिए तरस रहे हैं। गोवर्धन के मुड़िया पूर्णिमा मेले में करोड़ों … [आगे पढ़ें...]

खुद ही तैयार करें कम्पोस्ट खाद

कम्पोस्ट, जी हां, पौधों के लिए कम्पोस्ट पोषक तत्त्वों से भरपूर होती है और ये बाजार में नहीं मिलती। यदि आपके पास खुला स्थान है तो घर पर ही आप पोषक तत्त्वों से भरपूर कम्पोस्ट तैयार कर सकते हैं। पौधों के लिए पोषक तत्त्वों से भरपूर मिट्टी की बहुत आवश्यकता होती है। यहां की मिट्टी में पोटाश और फॉस्फेट अच्छी मात्र में मिल जाता है, परंतु पौधों … [आगे पढ़ें...]

जनपद में अब तक छह लाख पौधे रोपे गए

मथुरा AU। वृक्षारोपण अभियान के तहत लगाए गए पौधों के संरक्षण के निर्देश दिए गए हैं। पौधे लगाना बड़ी बात नहीं, बल्कि उन्हें संरक्षित करना बड़ी बात है। हर साल लाखों पौधे रोपे जाते हैं लेकिन पर्याप्त संरक्षण के अभाव में अधिकतर मर जाते हैं। इस बार ऐसा नहीं होना चाहिए। उन्होंने अनुपस्थित विभागीय अफसरों से स्पष्टीकरण मांगा। डीएम कैंप कार्यालय … [आगे पढ़ें...]