नैप्पीयर घास से चारे की समस्या का खात्मा

मथुरा (AU)। भीषण गर्मियों में अब पशुओं के लिए हरे चारे की कमी नहीं रहेगी। चार वर्ष तक लगातार हरे चारे के पर्तवार लान (फसल) देने वाली नैप्पीयर प्रजाति की घास मथुरा वेटरिनरी विवि से संबद्ध कृषि विज्ञान केंद्र और झांसी चारा अनुसंधान केंद्र के वैज्ञानिकों ने मिलकर तैयार की है। इसकी पहली फसल मथुरा के डेयरी फार्म में उगाई जा रही है। इस घास को … [आगे पढ़ें...]

दुधारू गाय से ही प्यार है गो-पालकों को

मथुरा (DJ): 14 नवंबर को गोपाष्टमी है। गऊ माता कहकर गायों को पूजा जाएगा। कोई-कोई माला भी पहनाएगा। लेकिन आम दिनों में भूखी-प्यासी बिचरती गायों को लेकर इनकी श्रद्घा खत्म हो जाती है। गो-पालकों को भी सिर्फ दूध देने वाली गायों से ही प्यार रहता है। ज्यादातर गऊशालाओं में उनकी ही सेवा की जाती है। नगर में आए दिन गायें उठ रही हैं। किसी भी … [आगे पढ़ें...]

मृत पड़ी रही गाय….ढूंढे नहीं मिल रहे गौ प्रेमी!

वृन्दावन (DJ): हिन्दुओं की आस्था का केंद्र गौमाता अब मात्र एक मुद्दा बनकर रह गयी है! गौवंश की रक्षा करने का भाषढ़ देने वाले हिंदूवादी अपनी राजनीती चमकाने के लिए गौवंश की बात करते हैं! वास्तव में उन्हें गौवंश से कोई लगाव नहीं है! यही कारण है की सड़क किनारे मृत पड़ी गायों के शव न तो इन गौवंश प्रेमियों को दिखाई देते हैं और न ही कोई इनका … [आगे पढ़ें...]

प्रशासन ने रुकवाया अवैध कटान

मथुरा (AU)। श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर पशुओं का अवैध कटान और मांस की बिक्री प्रशासन ने रोक लगा दी है। कट्टी में लिप्त एक व्यक्ति को जेल भेज दिया गया है। जबकि मनोहर पुरा से कटान का मलबा नगर पालिका द्वारा साफ कराया गया है। यमुना कार्ययोजना में इलाहाबाद हाईकोर्ट द्वारा अवैध पशु कटान पर रोक लगाने के बावजूद भी शहर में पशुओं का कटान जोरों से चल … [आगे पढ़ें...]

जिले में सिर्फ २३ गौशालओं का पंजीकरण

मथुरा (AU)। कान्हा के ब्रज में गौ-रस यानी गाय के दूध, दही और घी का जबर्दस्त टोटा हैं। ब्रांडेड कंपनियां काफी हद तक गौ-रस की अकाल के लिए जिम्मेदार हैं। इन कंपनियाें ने गांव-गांव कलेक्शन सेंटर खोल रखे हैं। इनमें जनपद का ७५ फीसदी गौ-रस खप जाता है। बचा हुआ दूध आगरा और हाथरस में बिक जाता है। उधर, जिला पशुपालन अधिकारी डा. एपी सिंह ने बताया कि … [आगे पढ़ें...]