इस बार वीवीआईपी संस्कृति से मनेगी बरसाने की विश्वप्रसिद्ध लठामार होली

– लठामार होली में चार प्रदेशों के मुख्यमंत्री एवं कई कैबिनेट मंत्री भी कर सकते हैं शिरकत  
– देशी-विदेशी तीर्थयात्रियों, श्रद्धालुओं एवं स्थानीय निवासियों को करना पड़ेगा भारी दिक्कतों का सामना
– पुलिस की सतर्कता पर्यटकों के लिए बन सकती है परेशानी
– पुलिस वेरीफिकेशन से ठहर सकेंगे श्रद्धालु, पुलिस ने मेला क्षेत्र के गृह स्वामियों को भी दिए नोटिस
वृन्दावन, बरसाना, 11 फरवरी 2018, (VT) बरसाना की विश्व प्रसिद्ध लठामार होली में चार प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों सहित उनकी कैबिनेट के दर्जनों मंत्री शिरकत कर सकते हैं। इनके लिए मेला क्षेत्र में वीवीआईपी व्यवस्था होगी। वहीं आम जनता के लिए हालात मुश्किल होने की आशंका जताई जा रही है। बरसाना को तीर्थस्थल का दर्जा मिलने के बाद पहली लठामार होली में प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ के आने की घोषणा के बाद से यूपी बॉर्डर से लगे प्रदेशों के मुख्यमंत्री भी बरसाना की लठामार होली देखने आ सकते हैं।
सूत्रों की मानें तो हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर, राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, मणिपुर के मुख्यमंत्री वीरेंदर सिंह के साथ इनके मंत्रिमंडल के दर्जनों मंत्री बरसाना की लठामार होली देखने आ सकते हैं। एक ओर हाईप्रोफाइल आयोजन होने के कारण अधिकारी व्यवस्थाओं को लेकर सतर्क रहेंगे। वहीं दूसरी ओर होली देखने आने वाले पर्यटकों और स्थानीय ग्रामीणों से अनावश्यक टोका-टाकी भी होगी। ऐसे में लोग लठामार होली की नैसर्गिकता पर असर पड़ने का अंदेशा जता रहे हैं।
बिना पुलिस वेरीफिकेशन नहीं ठहर पाएंगे बरसाना: लठामार होली पर आने वाले श्रद्धालुओं को पहचान पत्र दिखाना होगा, तभी वे किसी भी गेस्ट हाउस व धर्मशाला के साथ निजी मकान में ठहर सकेंगे। पुलिस ने किराए पर कमरे देने वाले सभी गृहस्वामियों को नोटिस भी थमाया है। इस बार लठामार होली पर बरसाना के किसी भी गेस्टहाउस, धर्मशाला या किसी के निजी मकान में ठहरने वाले श्रद्धालुओं को वेरीफिकेशन कराना होगा।
इतना ही नहीं, लठामार होली का आयोजन जिस क्षेत्र में होगा, वहां के मकान मालिकों को नोटिस भेजकर आगाह किया है कि वे अपने घरों की छतों पर किसी बाहरी व्यक्ति को न बैठाएं। कोई हादसा होता है, तो गृहस्वामी की सारी जिम्मेदारी होगी। उसी से आर्थिक मुआवजा भी वसूल किया जाएगा।
बरसाना थाना प्रभारी निरीक्षक सुनील कुमार तोमर ने बताया कि लठामार होली पर आने वाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा को देखते हुए गेस्ट हाउस धर्मशाला व मकान मालिकों को एहतिहात के तौर पर नोटिस भेजे गए हैं। DKS

एक उत्तर दें छोड़ दो

Your email address will not be published. Required fields are marked *