श्रीमद्भागवत गीता का उर्दू में कर रहे अनुवाद सुप्रसिद्ध भजन गायक अनूप जलोटा

– भजन गायक अनूप जलोटा ने विश्वलक्ष्मी नगर में कला वृक्ष कत्थक केंद्र का किया उद्घाटन
वृन्दावन, 18 जनवरी 2018, (VT) मथुरा सुप्रसिद्ध भजन गायक पदमश्री अनूप जलोटा इन दिनों भागवत गीता का उर्दू में अनुवाद करने में व्यस्त हैं। वह चाहते हैं कि गीता का ज्ञान पूरे विश्व में और हर भाषा के लोगों तक पहुंचे। ब्रज के लिए यह उल्लास का मसला है कि उनके भजन पर ब्रज की सुप्रसिद्ध नृत्यांगना गीतांजलि नृत्य अभिनय करेंगी।
श्री जलोटा रविवार को यहां विश्वलक्ष्मी नगर में कला वृक्ष कत्थक केंद्र का उद्घाटन करने आए थे। नृत्यांगना गीतांजलि के इस केंद्र की शुरूआत करने के बाद वह पत्रकारों से मुखातिब थे। उन्होंने कहा कि गीता एक ऐसा ग्रंथ है जिस हर भाषा के लोग पढ़ना चाहते हैं। अंग्रेजी सहित तमाम भाषाओं में गीता के अनुवाद मौजूद हैं। वह उर्दू में इसका अनुवाद सहज और सरल तरीके से कर रहे हैं। उनका यह काम एक महीने में पूरा हो जाएगा। इस काम की प्रेरणा उन्हें पाकिस्तान में एक कार्यक्रम के दौरान मिली।
उन्होंने कहा कि केंद्र की गीतांजलि ने मुबंई में अपनी व्यस्तता और वहां के आकर्षण वातावरण को तिलांजलि देकर ब्रज की प्रतिभाओं को निखारने का प्रयास ब्रज के प्रति उनकी साधना और समर्पण को दर्शाता है। मेरे लिखे गीत बांसुरी टूटी और राधा रूठी पर गीताजंलि नृत्य अभिनय करेंगी। गीतांजलि के अनुरोध पर ब्रजवासियों को स्वच्छता का संदेश देते हुए क्लीन ब्रज और ग्रीन की अपील करते हुए कहा कि जागरूक रहें और स्वस्थ्य रहें।
उन्होंने अपने प्रसिद्ध भजन ऐसी लागी लगन मीरा हो गई मगन सुनाकर सब को मंत्रमुग्ध कर दिया। केंद्र का उदघाटन करते हुए अनूप जलौटा ने मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्ज्वलन कर किया। इस मौके पर संस्था के सरंक्षक पीआर शर्मा, अध्यक्ष वृषभान गोस्वामी, एडवोकेट सार्थक चतुर्वेदी, नम्रता मिश्र और डॉ. नीतू गोस्वामी ने उनका बुके भेंटकर स्वागत किया। अंत में गीतांजलि शर्मा ने आभार व्यक्त किया।  DKS

एक उत्तर दें छोड़ दो

Your email address will not be published. Required fields are marked *