राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में शीघ्र ही शामिल होगा मथुरा जनपद

– सांसद हेमामालिनी की संस्तुति पर मुख्यमंत्री ने राज्य सरकार की ओर से एनसीआर बोर्ड को भेजा प्रस्ताव  
वृन्दावन, 08 जनवरी 2018,(VT) तीर्थस्थल की सौगात के बाद अब मथुरा जनपद एक नई सौगात बहुत जल्द ही मिल सकती हैं, मथुरा जिले के राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में शामिल होने का एक और अवरोध दूर हो गया है। सांसद हेमा मालिनी की संस्तुति पर मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने राज्य सरकार की ओर से एनसीआर बोर्ड को प्रस्ताव भिजवा दिया है। एनसीआर बोर्ड की आगामी बैठक में मथुरा पर विचार होना तय हो गया है।
यह पहला मौका है, जब राज्य सरकार ने स्वयं एनसीआर बोर्ड को प्रस्ताव किया है। दो साल पहले अखिलेश सरकार ने इस प्रस्ताव को एनसीआर बोर्ड बैठक से ठीक पहले भेजने से इन्कार कर दिया था। सबसे पहले पूर्व सांसद कुंवर मानवेंद्र सिंह और पूर्व विधायक प्रदीप माथुर ने इस मांग को आगे बढ़ाया।
ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा भी मथुरा को एनसीआर में शामिल कराने के लिए पैरवी करते रहे हैं। सांसद हेमा मालिनी ने जून में राज्य सरकार को इस आशय का पत्र भेजा और अपनी पिछली मुलाकात में भी उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ को अवगत कराया कि मथुरा हरियाणा और राजस्थान की सीमा पर बसे होने के साथ ही नई दिल्ली के अति निकट है और रेलमार्ग के जरिए पूरे देश से जुड़ा है।
राष्ट्रीय राजमार्ग और एक्सप्रेस वे से भी जुड़ा हुआ है। उन्होंने नेशनल कैपिटल रीजन (एनसीआर) में शामिल करने के लिए राज्य सरकार की ओर से भारत सरकार को औपचारिक प्रस्ताव भेजने का आग्रह किया। अब आवास एंव शहरी नियोजन अनुभाग-2 के विशेष सचिव राजेश कुमार पांडेय ने सांसद को पत्र लिखकर अवगत कराया है कि केंद्र सरकार को उक्त आशय का प्रस्ताव प्रेषित कर दिया गया है। DKS

एक उत्तर दें छोड़ दो

Your email address will not be published. Required fields are marked *