गिरिराज जी के भक्त हुई जीत, समय से शयन करेंगे गिरिराज प्रभु

– सांसद के निर्देश पर प्रशासन ने दानघाटी मंदिर प्रबंधक को फटकार लगा समय से शयन सेवा करने की दी हिदायत
– धरने पर बैठ जताया था देर रात तक दर्शन देने का विरोध
वृन्दावन, 27 दिसम्बर 2017,(VT) गिरिराजजी के भक्त ने आखिर प्रभु के शयन की जंग जीत ही ली। सांसद के निर्देश पर प्रशासन ने दानघाटी मंदिर प्रबंधक को फटकार लगाते हुए समय सारिणी के हिसाब से शयन सेवा का पालन कराने के सख्त निर्देश दिए हैं। पालन न करने पर कार्रवाई को कहा गया है।
दानघाटी गिरिराज की शयन सेवा में अनियमितता का प्रकरण कई दिन से चल रहा है। मंदिर प्रबंधक की लापरवाही के कारण गिरिराज प्रभु को रात करीब एक बजे तक श्रंगार में रखकर शयन न कराने की शिकायत सामने आई। गिरिराज भक्त गौतम खंडेलवाल ने इस मामले पर एक दिन का धरना भी दिया था। वह कुछ दिनों से इस मुद्दे को लेकर संघर्ष छेड़े हुए थे। मंगलवार को गिरिराज भक्त गौतम खंडेलवाल एवं ज्ञानेंद्र राणा सांसद हेमा मालिनी से मिले।
सांसद ने आस्था को देखते हुए तुरंत एसडीएम गोवर्धन को शयन सेवा निश्चित समय से कराने के निर्देश दिए। नायब तहसीलदार अजय कुमार ने मंदिर प्रबंधक डालचंद चैधरी को बुलाकर तत्काल समय सारिणी के अनुसार दानघाटी गिरिराज का शयन कराने की बात कही। गौतम खंडेलवाल ने बताया कि गिरिराज प्रभु को आधी रात तक जागता देख उनकी भावनाएं आहत होती हैं। वह कई बार मंदिर प्रबंधक को भी अवगत करा चुके हैं। उन्होंने साफ इन्कार कर दिया था, तब उन्होंने लिखित शिकायत की है।
तहसीलदार अजय कुमार ने बताया कि यह मामला करोड़ों श्रद्धालुओ की भावना से जुड़ा है। ठाकुरजी के शयन का जो समय निश्चित है, उसे कड़ाई से पालन कराने के लिए मंदिर प्रबंधक डालचंद चैधरी को निर्देश दे दिए गए हैं। शयन में अनियमितता मिलने पर प्रबंधक के खिलाफ मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट को लिखकर कार्यवाही की संस्तुति की जाएगी।  DKS

एक उत्तर दें छोड़ दो

Your email address will not be published. Required fields are marked *