एक महीने में कब्जामुक्त होंगी प्रदेश की गोचर भूमि

– प्रदेश गोसेवा आयोग के चेयरमैन राजीव गुप्ता वृन्दावन पधारे
वृन्दावन, 31 दिसम्बर 2017, (VT) प्रदेश गोसेवा आयोग के चेयरमैन राजीव गुप्ता शुक्रवार को यहां कहा कि प्रदेश में जहां भी गोचर भूमि पर अवैध कब्जे हो गए हैं, उनको एक महीने के अंदर खाली करा लिया जाएगा। इसके लिए जिलास्तरीय समितियों का गठन किया जा रहा है।
वृंदावन शोध संस्थान में आयोजित गो कृषि सम्मेलन में बतौर मुख्य अतिथि आए प्रदेश गो आयोग के चेयरमैन गुप्ता ने पत्रकार वार्ता में कहा कि प्रदेश में नहरों और राजमार्ग के किनारे जहां पर वन विभाग की भूमि खाली पड़ी है, उस भूमि पर चारागाह बनाए जाएंगे। इसकी सरकार योजना बना रही है। गो पालकों को चारागाह के लिए पर्याप्त स्थान उपलब्ध कराया जाएगा।
उन्होंने बताया कि गोसेवा को लेकर बड़े स्तर पर कार्ययोजना बनाई जा रही है। गोशाला के लिए अनुदान भी दिया जाएगा। प्रदेश में 500 गोशाला पंजीकृत हैं। एक से 30 जनवरी तक आर्थिक सहायता के लिए गोशाला संचालकों से आवेदन मांगे गए हैं। प्राप्त आवेदनों के आधार पर फरवरी में स्थलीय निरीक्षण का कार्य करा लिया जाएगा। मार्च-अप्रैल में गोशाला के लिए अनुदान जारी कर दिया जाएगा। आवेदन फार्म पशुपालन की वेबसाइट पर उपलब्ध हैं। सरकार गो जैविक कृषि को बढ़ावा देने के भी प्रयास कर रही है। इसके लिए डीएम को अवगत करा दिया गया है।
जिलास्तर पर गठित की जा रही गोसंरक्षण समिति के अध्यक्ष डीएम, उपाध्यक्ष एसएसपी और सीडीओ होंगे। गोशाला संचालक सदस्य होंगे। DKS

एक उत्तर दें छोड़ दो

Your email address will not be published. Required fields are marked *