डीएम के निर्देश पर राजस्व विभाग ने माइनर के पास निर्माण पर लगाई रोक

वृन्दावन, 07.07.2017 (V.T.) वृन्दावन के कुंड, सरोवर, बगीचे, बाबड़ियों को मीठा जल मुहैया कराने वाली वृन्दावन माइनर संकट में घिरी है। इस बार एक व्यक्ति द्वारा अवैध निर्माण किया जा रहा था, जिसे राजस्व विभगा ने रोक दिया। राजस्व विभाग के कानूनगो के निर्देश पर लेखपाल ने संभावित नहर और विवादित जमीन की पैमाइश की।

डीएम अरविंद्र मलप्पा बंगारी के निर्देश पर राजस्व विभाग की टीम नहर के निकट वेशकीमती जमीन पर हो रहे निर्माण स्थल की जांच पड़ताल करने आई। कानूनगो राकेश यादव और लेखपाल पटेल ने विवादित जमीन की पैमाइश करने के साथ ही संभावित नहर की जमीन की भी पैमाइश की।

निर्माण स्थल में नहर की जमीन होने की आशंका के चलते राजस्व विभाग ने नहर के निकट जमीन की पैमाइश और नहर की जमीन की स्थिति स्पष्ट होने तक निर्माण कार्य पर रोक लगाने के प्रदीप अग्रवाल को निदे्रश दिए हैं। राजस्व विभाग नहर की वास्तविक जमीन और उसके स्थान को घंटों खोजता रहा, लेकिन सही तरीके से नहर की वास्तविक जमीन का पता नहीं चल सका।

ज्ञात हो कि डैंपियर निवासी ओमप्रकाश अग्रवाल ने आॅनलाइन जन शिकायत की थी। इस पर डीएम ने राजस्व विभाग को जांच कर जल्द रिपोर्ट पेश करने के निर्देश दिए थे। नहर विभाग की लापरवाही के चलते 80 फीट चैड़ी नजर की वेशकीमीत जमीन पर कब्जा लगातार लोगों द्वारा किया जा रहा है। पक्के मकान और दीवार बनाई जा रही है, लेकिन सिंचाई विभाग गहरी नींद सोया हुआ है। कानूनगो राकेश यादव का कहना है कि डीएम के निर्देश पर पैमाइश कर ली गई है। जांच रिपोर्ट जल्द ही प्रस्तुत करेंगे।

एक उत्तर दें छोड़ दो

Your email address will not be published. Required fields are marked *