जाम के झाम में फंसी धर्मनगरी

वृन्दावन, 2017.06.12, ठा. बांकेबिहारी की नगरी में वाहनों से लगने वाले जाम की समस्या विकराल होती जा रही है। मगर शासन और प्रशासन को इस समस्या का इल्म तक नहीं। तभी तो सालों से चली आ रही समस्या से निजात के लिए आज तक कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा है। देश के बाहर से आने वाले श्रद्धालु वाहनों की इस लंबी कतार में फंसकर दस मिनट के रास्ते को दो घंटे में पूरा कर पा रहे है। शनिवार-रविवार और पर्व-उत्सव के दिनों में वृन्दावन आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या में दिनों दिन इजाफा हो रहा है। मगर शासन और प्रशासन की ओर से इन श्रद्धालुओ ंकी सुविधा और सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं किए जा रहे। हकीकत ये है कि वृन्दावन जैसी धार्मिक नगरी में आने वाला श्रद्धालु शासन और प्रशासन को कोसता ही नजर आता है।

ये पार्किंग बढ़ा रही मुश्किलः-

शहर के व्यस्ततम इलाके विद्यापीठ चैराहा के समीप बनी निजी पार्किंग हो या फिर किशोरपुरा में बनी पार्किंग, दुसायत की पार्किंगों में पहुंचने वाले वाहन सबसे अधिक यातायात व्यवस्था को ध्वस्त कर रहे है। इसके अलावा इस्काॅन मंदिर का अतिक्रमण और सामने मार्केट में खड़े वाहन जाम को बढ़ा रहे है। सबसे अधिक दिक्कत छटीकरा मार्ग पर प्रेममंदिर के सामने लगातार चार पार्किंगतो पूरे शहर की यातायात व्यवस्था को इस कदर ध्वस्त कर रही है कि यहां से गुजरने वाले वाहन चैड़ा रास्ता होने के बावजूद निकलने में दिक्कत महसूस करते है।

एक उत्तर दें छोड़ दो

Your email address will not be published. Required fields are marked *