आचार्य श्री वत्स गोस्वामी जी महाराज के निर्देशन में ग्रीष्मकालीननिकुंज सेवा महामहोत्सव आज से

वृन्दावन, 2017.06.02 (VT): ठाकुर श्री राधा रमण मन्दिर में आज से 33 दिवसीय ग्रीष्मकालीन निकुंज सेवा महामहोत्सव आरम्भ हो रहा है। आज रात्रि दूध भोग के साथ राधारमण मन्दिर के वरिष्ठ सेवायत आचार्य श्री वत्स गोस्वामी जी महाराज के
निर्देशन में सेवा महोत्सव आरम्भ हो रहा है। आचार्य श्री वत्स गोस्वामी जी महाराज, आचार्य वेणु गोपाल गोस्वामी जी महाराज, श्री अभिनव गोस्वामी जी एवं श्री सुवर्ण गोस्वामी जी के आचार्यत्व में ठा. श्री राधा रमण लाल जी महाराज की सेवा सम्पन्न होगी।                                                                                                                 जबकि महाराज जी द्वारा राधा रमण लाल को अर्पित सेवा महोत्सव हमेशा से ही भक्तों को आकर्षित करता रहा है, लेकिन इस वर्ष मनाये जाने वाले राधारमण लाल के 475 वीं प्राकट्य उत्सव इस सेवा महोत्सव को विशेष बनाता है। सेवा महोत्सव 2 जून रात्रि वेला से 5 जून दोपहर राजभोग आरती तक मनाया जायेगा।

सेवा महोत्सव के दौरान आने वाले पर्व विशेष पारम्परिक रूप से विशिष्ट शैली में आयोजित किया जायेगा। जिसमें गंगा दशहरा, जल यात्रा, रथ यात्रा, निर्जला एकादशी महत्वपूर्ण है। 2 जुलाई को 56 भोग का दर्शन होगा।

3 जून प्रातः काल से ही नित्य धार्मिक कार्यक्रम जैसे मूलपाठ, हरिनाम संकीर्तन, जप, श्रीमद् भागवतम, चैतन्य भागवत, गोपाल सहस्र नाम, नारायण कवच आदि का पाठ अनेकों ख्याति प्राप्त विद्वान, पंडित एवं आचार्यों द्वारा किया जायेगा। स्थानीय एवं बाहर से आने वाले ख्याति प्राप्त कलाकारों द्वारा राग सेवा एवं नृत्य सेवा आयोजित किये जाते रहेंगे।

वृन्दावन टुडे से विशेष वार्ता करते हुए आचार्य श्रीवत्स गोस्वामी जी महाराज जी ने बताया कि जैसा कि गोविन्द लीलामृत में कुंजों का वर्णन है उसी तर्ज पर सेवा महोत्सव के दौरान कुंजों की झांकियां बनायी जायेगीं। सायंकाल में ठा. राधारमण लाल ब्रज की प्राचीन धरोहरों को महत्व प्रदान करते हुए विभिन्न प्रकार की केले एवं सुगंधित पुष्पों से आच्छादित कुंज-निकुंजों में विराजेंगे।

 

 

 

एक उत्तर दें छोड़ दो

Your email address will not be published. Required fields are marked *