राधा बावड़ी में विट्ठल विपुलदेवजू का प्राकट्योत्सव मनाया

वृन्दावन, 2016.12.05 (VT): 05vrnp02राधा बावड़ी में संत एवं भक्तों ने विट्ठल विपुलदेवजू महाराज का प्राकट्योत्सव धार्मिक आयोजनों के मध्य मनाया। टटिया स्थान के संतों ने बधाई गायन किया। इसके बाद पुष्पांजलि एवं आध्यात्म चिंतन किया गया। संतों की तपोस्थली राधा बावड़ी वृन्दावन के राजपुर गांव में स्थित है।
बाबा किशोरी शरण भक्तमाली ने कहा कि विट्ठल विपुलदेवजूं भक्ति रस के सागर थे। उन्होंने स्वामी हरिदास महाराज के पंथ को आगे बढ़ाया। बाबा मदन बिहारी दास ने कहा कि संतों की साधना स्थली श्रीधाम वृन्दावन के दर्शन मात्र से ही मानव का कल्याण हो जाता है।
यहां पग-पग पर प्रभु राधाकृष्ण की भक्ति का अनुभव श्रद्धालुओं को सहज रुप से मिलता है। ठा.मुकेश सिंह सिकरवार ने कहा कि हमें संतो ंके चरित्र का स्मरण करके ही अपना जीवन यापन करना चाहिए।
प्राकट्योत्सव में सुदूर क्षेत्रों से बड़ी संख्या में भक्तजन आए। भंडारे का आयोजन किया गया। उत्सव में बाबा सोहनीशरण दास, बाबा विपिनबिहारी दास, अलवेलीशरण, मदनबिहारी दास, भजन गायक बाबा रसिक पागल, महंत फूलडोल, छोटेलाल, ब्रजेश तिवारी, अनिल पंडित, बिहारीदास, रमाकांत, बल्देव, किशोरीश्याम, गोवर्धनदास, ब्रजेश दास, राहुल उपस्थित थे। संचालन योगेश सिंह ने किया।

एक उत्तर दें छोड़ दो

Your email address will not be published. Required fields are marked *