ब्रज में इंद्र को मनाने के लिए त्यागा अन्न-जल

सुरीर2014.07.15(DJ): वर्षा न होने से सूखे के आसार बढ़ गए हैं।
रूठे इंद्रदेव को मनाने के लिए लोगों ने तप शुरू कर दिया है। जिद है कि जब तक इंद्रदेव नहीं बरसेंगे अन्न और जल को ग्रहण नहीं करेंगे।
टैटीगांव निवासी 65 वर्षीय बनवारीलाल के पास दस बीघा खेत हैं। उन्होंने धान की पौध बोई थी लेकिन वर्षा न होने से यह सूख गयी है। वह वर्षा के लिए अन्न-जल छोड़कर तप पर बैठ गए हैं।

उनका कहना था कि जब तक भगवान इंद्रदेव प्रसन्न नहीं होंगे,नहीं उठेंगे। वर्षा ही किसानों के चेहरे की खुशी लौटा सकती है। उनका यह तप क्षेत्र में भी चर्चा का विषय बन गया। क्षेत्र में कई किसान हैं जिनकी फसलों की वर्षा न होने से सिंचाई नहीं हो सकी है। किसानों का कहना है कि अगर बदरा नहीं बरसे तो दो वक्त की रोटी भी नहीं मिल सकेगी।

वर्षा का इंतजार करते-करते सावन आ गया है लेकिन वर्षा नहीं हो रही है। लोग वर्षा के लिए तरह-तरह के उपाय अपना रहे हैं। यही कारण है कि वह वर्षा के लिए तप पर बैठ रहे हैं।

एक उत्तर दें छोड़ दो

Your email address will not be published. Required fields are marked *